भारत के रेल मंत्री कौन है

About Author: M. S. Nashtar

Last Edited: 09 Oct 2019 02:32 AM

bharat ke rail mantri ki jankari, भारत के रेल मंत्री कौन है विस्तार से जानिए

क्या आप भारतीय रेलवे से संबंधित सामान्य ज्ञान को मजबूत करना चाहते हैं ? भारतीय रेलवे से संबंधित प्रतियोगिता परीक्षा में पूछे जाने वाले सामान्य ज्ञान को इस लेख में शामिल किया गया है. 

भारत के वर्तमान रेल मंत्री कौन है30 मई 2019 के शपथ ग्रहण समारोह में पीयूष गोयल को कैबिनेट मिनिस्टर के तौर पर शपथ दिलाया गया है। श्री पीयूष गोयल को फिर से भारत का रेल मंत्री चुना गया है। उसके साथ उसको वाणिज्य मंत्रालय का भी अतिरिक्त कार्य सौंपा गया है।

भारत के रेल मंत्री कौन है ? मौजूदा समय में रेल मंत्रालय में एक कैबिनेट रैंक के मंत्री हैं। जबकि एक राज्य मंत्री भी है !

रेलवे मंत्रालय के कैबिनेट मंत्री नाम श्री पीयूष गोयल है जबकि सुरंग अंगड़ी रेल राज्य मंत्री हैं ! अश्वनी लोहानी रेलवे बोर्ड के चेयरमैन है !

Bharat Ka Rail Mantri Kaun Hai

Bharat ka rail mantri kaun hai इस प्रश्न को इतना क्यों पूछा जाता है क्योंकि मोदी सरकार में अब तक तीन रेल मंत्री बना चुके हैं ! मोदी सरकार ने सबसे पहले डी. वी. सदानंद गौड़ा रेल मंत्री बने थे। उसके बाद सुरेश प्रभु को रेल मंत्री बनाया गया था !

सुरेश प्रभु के बाद श्री पीयूष गोयल को रेल मंत्री का कमान सौंपा गया है ! भारत के मौजूदा रेल मंत्री का नाम पीयूष गोयल हैं ! 

भारतीय रेलवे, रेल मंत्रालय के अधीन है ! कुछ साल पहले तक रेल मंत्रालय का अलग से बजट पेश करता था ! लेकिन नये प्रावधानों के अनुसार रेलवे का बजट वित्त मंत्रालय ही पेश करता है !

Bharat Ke Rail Mantri 2019

भारत के रेल मंत्री 2019 में भी श्री पीयूष गोयल है, सबसे पहले सितंबर 2017 के पहले हफ्ते में उसे रेल मंत्री का कार्यभार सौंपा गया था ! अब थोड़ा आप पीयूष गोयल जी के बारे में भी जान लें. 

पीयूष गोयल बीजेपी के बड़े नेता है और भारत के वर्तमान सरकार में केन्द्रीय रेल मंत्री हैं। भूतपूर्व केन्द्रीय मंत्री स्व. वेद प्रकाश गोयल के पुत्र हैं और उसे मोदी मंत्रिमंडल में प्रमोशन मिला है !

भारतीय राजनीति में सबसे ज्यादा रेल मंत्रालय की चर्चा होती है, क्योंकि यह मंत्रालय सीधे जनता से जुड़ा होता है ! अक्सर लोग जब ट्रेन लेट या विलंब से चलता है, रेल यात्रियों के बीच रेल मंत्री से लेकर प्रधानमंत्री के कामकाज का चर्चा गर्म हो जाता है !

Bharat Ke Rail Mantri Ka List

क्या आप भारत के रेल मंत्री का सूची को सर्च कर रहे हैं ? प्रतियोगिता परीक्षा में रेल मंत्री के सूची से संबंधित प्रश्न होते हैं । अगर आप सूची को ध्यान से देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि कौन से रेल मंत्री का कब से कब तक कार्यकाल रहा था।

इसके अलावा प्रथम, महिला और मुस्लिम रेल मंत्री कौन थे, यह भी आप जान कर सकते हैं। Bharat ke rail mantri ka list ? निम्नलिखित है - 

क्रम रेल मंत्री का नाम कार्यकाल
1 आसफ अली 2 सितम्बर 1946 – 14 अगस्त 1947
2 जॉन मथाई 15 अगस्त 1947 – 22 सितम्बर 1948
3 एन गोपालस्वामी आयंगर 22 सितम्बर 1948 – 13 मई 1952
4 लाल बहादुर शास्त्री 13 मई, 1952 – 7 दिसबंर 1956
5 जगजीवन राम 7 दिसबंर, 1956 – 10 अप्रैल, 1962
6 स्वर्ण सिंह 10 अप्रैल, 1962 – 21 सितम्बर, 1963
7 ए. सी. दासप्पा 21 सितम्बर, 1963 – 8 जून, 1964
8 एस. के. पाटिल 9 जून, 1964 – 12 मार्च, 1967
9 सी. एम. पूनाचा 13 मार्च, 1967 – 14 फरवरी, 1969
10 राम सुभग सिंह 14 फरवरी, 1969 – 4 नवंबर, 1969
11 पी. गोविन्द मेनन 4 नवंबर, 1969 – 18 फरवरी, 1970
12 गुलजारीलाल नंदा 18 फरवरी, 1970 – 17 मार्च, 1971
13 के. हनमुन्थैया 18 मार्च, 1971 – 22 जुलाई, 1972
14 टी. ए. पई 23 जुलाई, 1972 – 4 फरवरी, 1973
15 ललित नारायण मिश्रा 5 फरवरी, 1973 – 2 जनवरी, 1975
16 कमलापति त्रिपाठी 11 फरवरी, 1975 – 23 मार्च, 1977
17 मधु दंडवते 26 मार्च, 1977 – 28 जुलाई, 1979
18 टी. ए. पई 30 जुलाई, 1979 – 13 जनवरी, 1980
19 कमलापति त्रिपाठी 14 जनवरी, 1980 – 12 नवंबर, 1980
20 केदार पांडे 12 नवंबर, 1980 – 14 जनवरी, 1982
21 प्रकाश चंद्र सेठी 15 जनवरी, 1982 – 2 सितम्बर, 1982
22 गनी खाँ चौधरी 2 सितम्बर, 1982 – 31 दिसबंर, 1984
23 बंसी लाल 31 दिसबंर, 1984 – 4 जून, 1986
24 मोहसिना किदवई 24 जून, 1986 – 21 अक्टूबर, 1986
25 माधवराव सिंधिया 22 अक्टूबर, 1986 – 1 दिसबंर, 1989
26 जॉर्ज फर्नांडिस 5 दिसबंर, 1989 – 10 नवंबर, 1990
27 जनेश्वर मिश्र 21 नवंबर, 1990 – 21 जून, 1991
28 सी. के. जाफर शरीफ 21 जून, 1991 – 16 अक्टूबर, 1995
29 राम विलास पासवान 1 जून, 1996 – 19 मार्च, 1998
30 नीतीश कुमार 19 मार्च, 1998 – 5 अगस्त, 1999
31 राम नाइक 6 अगस्त, 1999 – 12 अक्टूबर, 1999
32 ममता बनर्जी 13 अक्टूबर, 1999 – 15 मार्च, 2001
33 नीतीश कुमार 20 मार्च, 2001 – 22 मई, 2004
34 लालू प्रसाद यादव 23 मई, 2004 – 25 मई, 2009
35 ममता बनर्जी 26 मई, 2009 – 19 मई, 2011
36 दिनेश त्रिवेदी 12 जुलाई, 2011 – 14 मार्च, 2012
37 मुकुल रॉय 20 मार्च, 2012 – 21 सितम्बर, 2012
38 सी. पी. जोशी 22 सितम्बर, 2012 – 28 अक्टूबर, 2012
39 पवन कुमार बंसल 28 अक्टूबर, 2012 – 10 मई, 2013
40 सी. पी. जोशी 11 मई, 2013 – 16 जून, 2013
41 मल्लिकार्जुन खड़गे 17 जून, 2013 – 25 मई, 2014
42 डी. वी. सदानंद गौड़ा 26 मई, 2014 – 9 नवंबर, 2014
43 सुरेश प्रभु 10 नवंबर, 2014 से 4 सितंबर 2017
44 पीयूष गोयल 4 सितंबर 2017 से अब तक

भारत के नये वित्त मंत्री नाम पीयूष गोयल है, उन्हें वित्त मंत्रालय का अतिरिक्त कार्यभार मिला है ! क्योंकि इन दिनों अरुण जेटली बीमार हैं !

Bharat Ke Pratham Rail Mantri Kaun Hai

भारत के पहले रेल मंत्री का नाम आसफ अली है ! उनका कार्यकाल 2 सितम्बर, 1946 से 14 अगस्त, 1947 तक रहा था ! 

कुछ लेखक जॉन मथाई को भारत के प्रथम रेल मंत्री मानते हैं ! आंकड़ों के मुताबिक उनका कार्यकाल 15 अगस्त, 1947 से 22 सितम्बर 1948 तक रहा था ! 

भारत के रेल राज्य मंत्री कौन है

मनोज सिन्हा और राजन गोहेन रेल राज्य मंत्री हैं ! मौजूदा सरकार में दो रेल राज्य मंत्री हैं ! 

भारत की प्रथम महिला रेल मंत्री कौन है

ममता बनर्जी एक वर्ष के लिए अटल बिहारी सरकार में भारत की पहली महिला रेल मंत्री थीं। वर्तमान समय में ममता बनर्जी भारत के पश्चिम बंगाल की नौवीं मुख्यमंत्री हैं ! 

भारत के प्रथम गैर कांग्रेसी रेल मंत्री कौन थे

भारत के प्रथम गैर कांग्रेसी रेल मंत्री का नाम मधु दंडवते है ! उनका कार्यकाल 26 मार्च, 1977 से 28 जुलाई 1979 तक रहा था ! 

भारतीय रेल नेटवर्क कितना लंबा है और कितने ट्रेन चलते हैं

भारतीय रेल नेटवर्क की लंबाई 115,000 किलोमीटर है ! भारतीय रेल में लगभग 19000 रेल गाड़ियां हैंं ! जो 23 मिलियन से ज्यादा यात्रियों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाती है ! मौजूदा समय में 7,172 छोटे बड़े रेलवे स्टेशन हैं ! 

भारतीय रेल की शुरुआत 16 अप्रैल 18 सो 53 में 33 किलोमीटर रेलवे ट्रैक से शुरुआत की थी  ! यह रेलवे ट्रैक मुंबई और ठाणे के बीच में थी !

भारतीय रेलवे का दुनिया और एशिया में कौन सा स्थान है

भारतीय रेल एशिया का सबसे बड़ा रेलवे नेटवर्क है जबकि दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा रेलवे नेटवर्क है!

प्रत्येक दिन 19000 से ज्यादा ट्रेनों का परिचालन होता है जिसमें 23 मिलियन से ज्यादा लोग सफर करते हैं ! यानी कि आप कह सकते हैं कि ऑस्ट्रेलिया की पूरी आबादी भारतीय रेल में एक साथ सफर कर सकती है !

भारतीय रेल का मुख्यालय नई दिल्ली है, उसके 17 मण्डल हैं ! दुनिया के किसी भी सरकारी संस्था के पास 13 लाख से ज्यादा कर्मचारी नहीं है जो भारतीय रेल के पास है !

भारतीय रेल को शुरू हुए 160 साल से ज्यादा हो चुका है ! भारतीय रेल का रेवेन्यू वर्ष 2017-18 में बढ़ कर 27 बिलियन डॉलर को भी पार कर चुका है!