बिहार का भूगोल - जलवायु, राष्ट्रीय, अंतर्राष्ट्रीय सीमाएं एवं बिहार के जिले

About Author: M. S. Nashtar

Last Edited: 23 Jul 2019 11:51 PM

bihar ka bhoogol, Geography of Bihar in hindi

बिहार का भूगोल ज्ञान का क्षेत्र बहुत बड़ा है. इस लेख में उन्हीं विषयों को शामिल किया गया है, जो ज्यादातर भूगोल की पुस्तक में संक्षेप में या नहीं शामिल किया गया है. आप विद्यार्थी के लिए यह लेख बहुत ही उपयोगी है. लेकिन तभी पता चलेगा जब आखिर तक आप इस लेख को पढ़ेंगे. 

बिहार राज्य के सीमाओं की जानकारी संक्षेप में

कई प्रतियोगिता परीक्षा में यह पूछा गया है कि, बिहार की सीमा भारत के कितने राज्यों से लगता या सटा हुआ है ? बिहार राज्य की राष्ट्रीय सीमा भारत के 3 राज्यों से लगता है. जिसका नाम उत्तर प्रदेश, झारखंड और पश्चिम बंगाल है. 

कुछ लोगों को यह पता होगा कि, बिहार के 2 जिले ऐसे हैं जिनकी सीमाएं भारत के दो अलग राज्यों से लगता है. जी हां कटिहार और रोहतास जिला है जिन की सीमाएं भारत के दो अलग-अलग राज्यों से लगता है. 

राज्य के कुल 8 जिले हैं जो उत्तर प्रदेश की सीमा से बिल्कुल सटा हुआ है. कई बार इसको प्रतियोगिता परीक्षा में पूछा गया है कि उत्तर प्रदेश और बिहार की कौन-कौन जिला है जो सीमावर्ती है. इनके नाम निम्नलिखित हैं - 

  • भोजपुर
  • बक्सर
  • कैमूर
  • रोहतास
  • पश्चिम चंपारण
  • गोपालगंज
  • सीवान
  • सारण

आप तो जानते ही होंगे कि झारखंड पहले बिहार का अंग हुआ करता था. झारखंड और बिहार के बीच में बिहार के 8 सीमावर्ती जिले हैं. जिनके नाम निम्नलिखित हैं - 

  • नवादा
  • जमुई
  • बांका
  • भागलपुर
  • कटिहार
  • रोहतास
  • औरंगाबाद
  • गया

पश्चिम बंगाल और बिहार राज्य के बीच में कितने सीमावर्ती जिले हैं ? इस प्रश्न का उत्तर - दोनों ही राज्यों के बीच में तीन सीमावर्ती जिले बिहार के हैं. जिनके नाम निम्नलिखित हैं - 

  • पूर्णिया
  • कटिहार
  • किशनगंज

BPSC के पीटी परीक्षा में प्रश्न पूछा गया था कि, बिहार की राजधानी पटना की चौहद्दी क्या है ? पटना का भूगोल कुछ अनोखा है. 

पटना के चारों तरफ कुल 9 जिले हैं. यानी कि आप यह का सकते हैं कि पटना जिला का सीमा बिहार के अन्य 9 जिलों को छूता है. जिसके नाम निम्नलिखित हैं - 

  1. बेगूसराय
  2. समस्तीपुर
  3. वैशाली
  4. छपरा
  5. भोजपुर
  6. अलवर
  7. जहानाबाद
  8. नालंदा
  9. लखीसराय

बिहार किस देश के अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटा हुआ है ? बिहार राज्य का अंतरराष्ट्रीय सीमा नेपाल नाम के देश से लगा हुआ है. बिहार और नेपाल देश की सीमा लगभग 601 किलोमीटर लंबी है. 

रांची का 7 जिला ऐसा है जो नेपाल के अंतर राष्ट्रीय सीमा से सटा हुआ है. जिसका नाम निम्नलिखित है -

  • सुपौल
  • अररिया
  • किशनगंज
  • पश्चिम चंपारण
  • पूर्वी चंपारण
  • सीतामढ़ी
  • मधुबनी

बिहार राज्य में कितने प्रतिशत वन क्षेत्र है ? राज्य के बंटवारे के बाद, 7.74 प्रतिशत ही वन क्षेत्र बचा है. कैमूर और पश्चिम चंपारण जिले ऐसे हैं जहां पर बिहार राज्य में सभी जिलों में सबसे ज्यादा वन क्षेत्र है. शिवहर एवं शेखपुरा ऐसा जिला है जहां पर राज्य के सभी जिलों में सबसे कम वन प्रतिशत क्षेत्र है. 

बिहार की जनसंख्या कितनी है ? जनसंख्या की दृष्टि से भारत के सभी राज्यों में बिहार का तीसरा स्थान है. इसके उलट क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत के राज्यों में बिहार का 12वां स्थान है. जनसंख्या घनत्व के मामले में बिहार का प्रथम स्थान है. कुछ उपयोगी जानकारी निम्नलिखित हैं - 2011 जनगणना के अनुसार, 

  • जनसंख्या - 103,804,637
  • जनसंख्या घनत्व - 1102 प्रति वर्ग किलोमीटर
  • साक्षरता - 63.82 %
  • लिंगानुपात - 916

बिहार की जलवायु किस क्षेत्र में आता है ? कई प्रतियोगिता परीक्षाओं में यह पूछे गए प्रश्न हैं. बिहार का जलवायु उप उष्णकटिबंधीय क्षेत्र में आता है. अगर जलवायु के प्रकार की बात करें तो नम उप उष्णकटिबंधीय है. 

बिहार का भौगोलिक स्थिति क्या है ? 24º 20 '10 "और 27º3'15" उत्तर अक्षांश व 83º 19 '50 "और 88º17'40" पूर्वी देशांतर है. 

बिहार के मुख्य नदियों के नाम क्या है ? अक्सर यह प्रश्न पूछे जाते हैं. गंगा, सरयू, गंडक, बागमती, कोशी, सोन, पुणुन व फल्गू. बिहार की समुद्र तल से एवरेज ऊँचाई कितना है ? बिहार के सभी जिलों का समुद्र तल से ऊंचाई एक जैसा नहीं है. अगर औसत निकाला जाए तो 173 फीट यानी 53 मीटर होता है. 

बिहार का कुल क्षेत्रफल कितना है ? राज्य का क्षेत्रफल 94,163 वर्ग किलोमीटर है? बिहार के सड़कों की लंबाई कितनी है? राष्ट्रीय राजमार्ग की लंबाई 269 4.75 किलोमीटर है. राज्य राजमार्ग की लंबाई 11050.12 किलोमीटर है. अन्य पीडब्ल्यूडी रोड की लंबाई 15385.88 किलोमीटर है. 

बिहार की कुल लंबाई और चौड़ाई कितनी है ? बिहार की लंबाई उत्तर से दक्षिण 345 कि.मी. है. राज्य की चौड़ाई  पूर्व से पश्चिम 483 किलोमीटर है. 

Geography of Bihar In Hindi

Geography Of Bihar In Hindi जैसे शब्दों को आप ने इंटरनेट पर कई बार सर्च किया होगा. लेकिन आपको पूरी जानकारी नहीं मिला होगा. यह लेख आपके लिए अनोखा साबित हो सकता है, धैर्य के साथ पढ़ें. 

Bihar Ka Bhoogol में बिहार की मिट्टी के ज्ञान के बिना अधूरा रह जाता है. बिहार में आयोजित होने वाले प्रतियोगिता परीक्षाओं में बिहार के मिट्टी से संबंधित प्रश्न होना लगभग तय है. लेकिन ज्यादातर विद्यार्थी इस सेक्शन में गलती करते हैं. 

बिहार राज्य में कितने प्रकार की मिट्टी पाई जाती है ? सबसे पहले आपको यह बता दूं कि बिहार की मिट्टी खेती के लिए बहुत ही उपयुक्त है. बिहार के हिमालय के तरफ से निकलने वाली ज्यादातर नदियां अवसाद तलछट लाती हैं. यह भी देखा जाता है कि बिहार के किस जिले में नदियां कम है. वहां की मिट्टी कम उपजाऊ है. 

भौगोलिक आधार पर बिहार की मिट्टियों को तीन भागों में वर्गीकृत किया जा सकता है - 

  • दक्षिणी पठारी क्षेत्र की मिट्टी
  • गंगा का उत्तरी मैदान क्षेत्र
  • गंगा का दक्षिणी मैदान क्षेत्र

दक्षिणी पठारी क्षेत्र की मिट्टी

इस प्रकार का मिट्टी खेती के लिए कभी भी उत्तम नहीं माना जाता है. क्योंकि लाल पीली मिट्टियों के अलावा लालरेतीली मिट्टी भी इसमें होता है. इस तरह की मिट्टी का बहुलता बिहार के गया, औरंगाबाद, जमुई, मुंगेर और बांका जिले में ज्यादा देखा जाता है. 

गंगा का उत्तरी मैदान क्षेत्र 

इस क्षेत्र में जलोढ़ या अपोढ़ मिट्टी की बहुलता देखी जाती है. तराई की मिट्टी मैं खास बात यह है कि मिट्टी के बाद एक बालू की परत होती है. जिसका रंग पीला होता है और अम्लीय स्वभाव का होता है. 

दूसरी प्रकार की मिट्टी का नाम जलोढ़ मिट्टी है. जो हल्के भूरे रंग की होती है. तीसरी प्रकार बलसुंदरी मिट्टी के रूप में है. जो गहरे भूरे रंग की होती है. गंगा का उत्तरी मैदानी क्षेत्र में चंपारण से लेकर किशनगंज तक के जिले आते हैं. 

गंगा का दक्षिणी मैदान क्षेत्र 

इस क्षेत्र में बालू, पहाड़ी मिट्टी, जलोढ़ रेट और कंकड़ वाली मिट्टी का बहुलता देखी जाती है. जिसमें बलथर, अभ्रक, लाल बलुई, और टाल मिट्टी प्रमुख हैं.