बिहार औ पटना का पुराना नाम

About Author: M. S. Nashtar

Last Edited: 27 Apr 2019 04:05 AM

बिहार का पुराना नाम, पटना का पुराना नाम, Bihar ka puraana naam, old name of bihar, patna ka puraana naam, old name of patna

Old Name of Bihar in Hindi यानी कि आप जानना चाहते हैं कि बिहार का पुराना नाम क्या था और कैसे बिहार नाम पड़ा ? बिहार राज्य कब बना था और बंगाल, उड़ीसा व झारखंड के साथ क्या संबंध है ? 

पटना का पुराना नाम क्या था ? इन सभी प्रश्नों का उत्तर आपको लेकर अंत तक मिलेगा, कृपया लेख को अंत तक ज़रूर पढ़ें !

प्राचीन इतिहास में बिहार को मगध नाम से जाना जाता था ! मगध की राजधानी पाटलिपुत्र हुआ करता था, जिसे आज के समय पटना के नाम से जानते हैं ! कुछ ही लोगों को पता होगा कि प्राचीन में मगध की राजधानी राज-गृह (राजगीर) थी, बाद में मगध की राजधानी पाटलिपुत्र बना था !

पटना का पुराना नाम क्या है

पाटलिपुत्र काफी पुराना नाम पाटलिग्राम था, जो राजा पत्रक का राजधानी हुआ करता था ! 490 ईसा पूर्व में हर्यक वंश के राजा ने पाटलिपुत्र को पहली बार राजधानी बनाया गया था !

जब मौर्य साम्राज्य (321-184 ईसा पूर्व) का उदय हुआ, पाटलिपुत्र पूरे भारत के लिए सत्ता का केंद्र बन गया था ! मौर्य साम्राज्य अफगानिस्तान से लेकर बंगाल की खाड़ी तक फैला हुआ था !

अशोक का काल 268 से 232 ईसा पूर्व तक रहा, इसी बीच पाटलीपुत्रा को शिलाओं की संरचना मे बदल दिया था ! मौर्य, शुंगा और नंदा सम्राट अलावा शेर-शाह का भी राजधानी पाटलीपुत्रा हुआ करता था !

यूनान के राजदूत मेगास्थनिज जो अशोक के दरबार में आए थे उन्होंने अपने किताब में पाटलिपुत्र को पालिबोथरा नाम दिया था और इसी तरह से चीनी यात्री फाहियान ने पालिनफ नाम दिया था !

माना जाता है कि शेरशाह सूरी के समय में पटना सब ज्यादा प्रचलित हुआ था, कुछ लोग इसे पटनदेवी मंदिर से इस नाम को जोड़कर देखते हैं !

शायद आपको पता यह नहीं है कि पटना का नाम कभी अजीमाबाद भी हुआ करता था ! 1704 में शहर का नाम अजीमाबाद, औरंगजेब ने अपने पोते के नाम पर रखा था !

बिहार या विहार - कैसे पड़ा नाम

विहार क्या है ? विहार शब्द का अर्थ मठ होता है। बौद्ध धर्म में बौद्ध भिक्षुओं के रुकने की वह जगह जहां पर वह प्रार्थना कर सकें, उसे विहार कहते हैं !

तुर्कों ने विहार को बिहार शब्द से उच्चारित किया था और कुछ समय के बाद, ज्यादातर लोग इस शब्द का उच्चारण करने लगे ! इस तरह से कभी मगध कहा जाने वाला प्रदेश बिहार के रूप में प्रचलित हो गया !

बिहार राज्य का उदय

22 अक्टूबर 1764 में, ईस्ट इंडिया कंपनी और मुगल व नवाबो के सैनिकों के बीच बक्सर में युद्ध हुआ था, जिसमें ईस्ट इंडिया कंपनी की जीत हुई थी ! पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, उड़ीसा और बांग्लादेश अंग्रेजों के अधीन हो गया ! इन प्रदेशों को मिलाकर ईस्ट इंडिया कंपनी ने बंगाल राज्य की स्थापना की थी !

22 मार्च 1912 में बंगाल का विभाजन के फलस्वरूप, फिर बिहार नाम का राज्य अस्तित्व में आया ।

बिहार से उड़ीसा एवं झारखंड का उदय

उड़ीसा पहले बिहार राज्य के अंदर ही आता था लेकिन 1935 में बिहार से उड़ीसा को अलग राज्य बना दिया गया !

आज़ादी के बाद, फिर से बिहार का एक बार और विभाजन हुआ, सन 2000 में बिहार से झारखंड को अलग करके एक नया राज्य बना दिया गया !

निष्कर्ष - बिहार का पुराना नाम विहार और मगध के रूप में जाना जाता था लेकिन पटना का पुराना नाम कभी पाटलिग्राम, पाटलिपुत्र, पालिबोथरा, पालिनफ, और अजीमाबाद रहा है.

दोस्तों, यह लेख आप बिहार और पटना के ऐतिहासिक नाम से संबंधित पढ़ा और उम्मीद करता हूं कि कि आपको बिहार और पटना का पुराना नाम अब अच्छे से पता चल गया होगा ! बिहार और इतिहास से संबंधित लेख के लिंक नीचे दिए गए, कृपया इसे एक बार ज़रुर पढ़ें !