छठ पूजा कब है

By: Sonal Jha Last Edited: 09 Apr 2019 02:08 AM

छठ पूजा कब है, chhath puja kab hai

Chhath Puja Kab Hai

Chhath Puja Kab Hai यानी छठ पूजा कब है ? जैसा कि आप जानते होंगे ! भारत में छठ पूजा को एक साल में 3 बार मनाया जाता है और तीनों मुख्य छठ पूजा का नाम अलग है -

  • कार्तिक छठ पूजा (Cartik Chath Puja)
  • चैती छठ पूजा (Chaiti Chhath Puja)
  • हर छठ पूजा (Har Chhath Puja)

आपको तीनों ही छठ पूजा कब है और उस की विस्तृत जानकारी इस लेख में मिलेगा ! धैर्य रखकर आखिर तक चेक करें आप और निराशा नहीं होगी ! 

अक्सर लोगों का प्रश्न होता है कि Kartik Chhath Puja Kab hai, Har Chhath Puja Kab Aur Chaiti Chhath Puja Kab hai, आप कंफ्यूज मत होइए !

कार्तिक छठ पूजा, हर छठ पूजा और चैती छठ पूजा की तिथियों की जानकारी 2028 तक, अलग-अलग दिया जाएगा ताकि आपको किसी प्रकार का कंफ्यूजन ना रहें  !

Cartik Chath Puja और Chaiti Chhath Puja के बारे में पहले जान लें

कार्तिक छठ पूजा (Cartik Chath Puja) और चैती छठ पूजा (Chaiti Chhath Puja) कब मनाया जाता है ? अन्य सभी पर्व व त्यौहार के लेख का लिंक नीचे दिया गया है, कृपया उसे भी एक बार जरूर चेक कर लें

कार्तिक छठ पूजा को ही ज्यादातर लोग छठ छठ पर्व कहते हैं ! यह त्योहार दिवाली के 6 दिन बाद मनाया जाता है ! हिंदू पंचांग के अनुसार कार्तिक शुक्ल षष्ठी को यह त्यौहार मुख्य रूप से मनाया जाता है ! इसीलिए इसको कार्तिक छठ पूजा कहते हैं!

अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार, अक्टूबर के अंतिम सप्ताह से लेकर नवंबर का तीसरे सप्ताह के बीच में यह त्यौहार मनाया जाता है! अन्य हिंदू त्यौहार के तरह ही इस त्यौहार का तिथि प्रत्येक वर्ष बदलता है!

चैती छठ पूजा - हिंदू पंचांग के अनुसार चैत्र मास में नवरात्र के दौरान ही हर साल षष्ठी तिथि को मनाया जाता है, इसीलिए इसको चैती छठ पूजा कहते हैं !

अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार, चैती छठ पूजा का तिथि प्रत्येक वर्ष बदल जाता है, यह त्यौहार मार्च के अंतिम सप्ताह से लेकर अप्रैल के तीसरे सप्ताह के बीच में होता है !

Kartik Chhath Puja Dates - 2019 से 2028 तक

कार्तिक छठ पूजा चार दिनों तक चलता है -

  • पहला दिन - नहाय खाये - चतुर्थी
  • दूसरा दिन - खरना - पंचमी
  • तीसरा दिन - संध्या अर्घ्य - षष्ठी
  • चौथा दिन - उषा अर्घ्य - सप्तमी

छठ पूजा 2019

2 नवंबर

  • सूर्योदय – 06:33
  • सूर्यास्त – 17:35
  • षष्ठी तिथि आरंभ – 00:51 (2 नवंबर 2019)
  • षष्ठी तिथि समाप्त – 01:31 (3 नवंबर 2019)
  • पहला दिन - चतुर्थी - 31 अक्टूबर
  • दूसरा दिन - पंचमी - 01 नवंबर
  • तीसरा दिन - षष्ठी - 2 नवंबर (शनिवार)
  • चौथा दिन - सप्तमी - 03 नवंबर

छठ पूजा 2020

20 नवंबर

  • सूर्योदय – 06:48
  • सूर्यास्त – 17:26  
  • षष्ठी तिथि आरंभ – 21:58 (19 नवंबर 2020)
  • षष्ठी तिथि समाप्त – 21:29 (20 नवंबर 2020)
  • पहला दिन - चतुर्थी - 18 नवंबर
  • दूसरा दिन - पंचमी - 19 नवंबर
  • तीसरा दिन - षष्ठी - 20 नवंबर (शुक्रवार)
  • चौथा दिन - सप्तमी - 21 नवंबर

छठ पूजा 2021

10 नवंबर

  • सूर्योदय – 06:40
  • सूर्यास्त – 17:31
  • षष्ठी तिथि आरंभ – 10:35 (9 नवंबर 2021)
  • षष्ठी तिथि समाप्त – 08:24 (10 नवंबर 2021)
  • पहला दिन - चतुर्थी - 08 नवंबर
  • दूसरा दिन - पंचमी - 09 नवंबर
  • तीसरा दिन - षष्ठी - 10 नवंबर (बुधवार)
  • चौथा दिन - सप्तमी - 11 नवंबर

छठ पूजा 2022

30 अक्तूबर

  • सूर्योदय – 06:31
  • सूर्यास्त – 17:38
  • षष्ठी तिथि आरंभ – 05:49 (30 अक्तूबर 2022)
  • षष्ठी तिथि समाप्त – 03:27 (31 अक्तूबर 2022)
  • पहला दिन - चतुर्थी - 28 अक्टूबर
  • दूसरा दिन - पंचमी - 29 अक्टूबर
  • तीसरा दिन - षष्ठी - 30 अक्टूबर (रविवार)
  • चौथा दिन - सप्तमी -  31 अक्टूबर

छठ पूजा 2023

19 नवंबर

  • सूर्योदय – 06:46
  • सूर्यास्त – 17:27
  • षष्ठी तिथि आरंभ – 09:17 (18 नवंबर 2023)
  • षष्ठी तिथि समाप्त – 07:22 (19 नवंबर 2023)
  • पहला दिन - चतुर्थी - 17 नवंबर
  • दूसरा दिन - पंचमी - 18 नवंबर
  • तीसरा दिन - षष्ठी - 19 नवंबर (रविवार)
  • चौथा दिन - सप्तमी - 20 नवंबर

छठ पूजा 2024

7 नवंबर

  • सूर्योदय – 06:38
  • सूर्यास्त – 17:32
  • षष्ठी तिथि आरंभ – 00:40 (7 नवंबर 2024)
  • षष्ठी तिथि समाप्त – 00:34 (8 नवंबर 2024)
  • पहला दिन - चतुर्थी - 07 नवंबर
  • दूसरा दिन - पंचमी - 08 नवंबर
  • तीसरा दिन - षष्ठी - 07 नवंबर (गुरुवार)
  • चौथा दिन - सप्तमी - 08 नवंबर

छठ पूजा 2025

28 अक्तूबर

  • सूर्योदय – 06:30
  • सूर्यास्त – 17:40
  • षष्ठी तिथि आरंभ – 06:04 (27 अक्तूबर 2025)
  • षष्ठी तिथि समाप्त – 07:59 (28 अक्तूबर 2025)
  • पहला दिन - चतुर्थी - 26 अक्टूबर
  • दूसरा दिन - पंचमी - 27 अक्टूबर
  • तीसरा दिन - षष्ठी - 28 अक्टूबर (मंगलवार)
  • चौथा दिन - सप्तमी -  29 अक्टूबर

छठ पूजा 2026

15 नवंबर

  • सूर्योदय – 06:44
  • सूर्यास्त – 17:28
  • षष्ठी तिथि आरंभ – 23:23 (14 नवंबर 2026)
  • षष्ठी तिथि समाप्त – 02:00 (16 नवंबर 2026)
  • पहला दिन - चतुर्थी - 13 नवंबर
  • दूसरा दिन - पंचमी - 14 नवंबर
  • तीसरा दिन - षष्ठी - 15 नवंबर (रविवार)
  • चौथा दिन - सप्तमी - 16 नवंबर

छठ पूजा 2027

4 नवंबर

  • सूर्योदय – 06:35
  • सूर्यास्त – 17:35
  • षष्ठी तिथि आरंभ – 19:31 (03 नवंबर 2027)
  • षष्ठी तिथि समाप्त – 21:37 (04 नवंबर 2027)
  • पहला दिन - चतुर्थी - 02 नवंबर
  • दूसरा दिन - पंचमी - 03 नवंबर
  • तीसरा दिन - षष्ठी - 04 नवंबर (गुरुवार)
  • चौथा दिन - सप्तमी - 05 नवंबर

छठ पूजा 2028

23 अक्टूबर

  • सूर्योदय – 06:29
  • सूर्यास्त – 17:36
  • षष्ठी तिथि आरंभ – 19:31 (22 अक्टूबर 2028)
  • षष्ठी तिथि समाप्त – 21:37 (23 अक्टूबर 2028)
  • पहला दिन - चतुर्थी - 20 अक्टूबर
  • दूसरा दिन - पंचमी - 22 अक्टूबर
  • तीसरा दिन - षष्ठी - 23 अक्टूबर (सोमवार)
  • चौथा दिन - सप्तमी - 24 अक्टूबर

Chaiti Chhath Puja Date - 2019 से 2028 तक

चैती छठ पूजा चार दिनों तक चलने वाला पर्व है, हिंदी कैलेंडर के अनुसार चैत्र महीने के चतुर्थी (4) के दिन शुरू होता है और अंत इसी महीने के सप्तमी (7) को होता है !

चतुर्थी - पहला दिन - नहाय खाये

पंचमी - दूसरा दिन - खरना

षष्ठी - तीसरा दिन - संध्या अर्घ्य

सप्तमी - चौथा दिन - उषा अर्घ्य

Chaiti Chhath Puja का मुख्य दिवस षष्ठी को होता है जिससे संध्या अर्घ्य कहते हैं ! वर्ष 2019 से लेकर 2028 तक के चैती छठ पूजा की तिथि निम्नलिखित है -

चैती छठ पूजा 2019

  • चतुर्थी - पहला दिन - 09 अप्रैल
  • पंचमी - दूसरा दिन - 10 अप्रैल
  • षष्ठी - तीसरा दिन - 11 अप्रैल (गुरुवार)
  • सप्तमी - चौथा दिन - 12 अप्रैल

चैती छठ पूजा 2020

  • चतुर्थी - पहला दिन - 28 मार्च
  • पंचमी - दूसरा दिन - 29 मार्च
  • षष्ठी - तीसरा दिन - 30 मार्च (सोमवार)
  • सप्तमी - चौथा दिन - 31 मार्च

चैती छठ पूजा 2021

  • चतुर्थी - पहला दिन - 16 अप्रैल
  • पंचमी - दूसरा दिन - 17 अप्रैल
  • षष्ठी - तीसरा दिन - 18 अप्रैल (रविवार)
  • सप्तमी - चौथा दिन - 19 अप्रैल

चैती छठ पूजा 2022

  • चतुर्थी - पहला दिन - 5 अप्रैल
  • पंचमी - दूसरा दिन - 6 अप्रैल
  • षष्ठी - तीसरा दिन - 7 अप्रैल (गुरुवार)
  • सप्तमी - चौथा दिन - 8 अप्रैल

चैती छठ पूजा 2023

  • चतुर्थी - पहला दिन - 25 मार्च
  • पंचमी - दूसरा दिन - 26 मार्च
  • षष्ठी - तीसरा दिन -  27 मार्च (सोमवार)
  • सप्तमी - चौथा दिन - 28 मार्च

चैती छठ पूजा 2024

  • चतुर्थी - पहला दिन - 12 अप्रैल
  • पंचमी - दूसरा दिन - 13 अप्रैल
  • षष्ठी - तीसरा दिन - 14 अप्रैल (रविवार)
  • सप्तमी - चौथा दिन - 15 अप्रैल

चैती छठ पूजा 2025

  • चतुर्थी - पहला दिन - 01 अप्रैल
  • पंचमी - दूसरा दिन - 02 अप्रैल
  • षष्ठी - तीसरा दिन - 03 अप्रैल (गुरुवार)
  • सप्तमी - चौथा दिन - 04 अप्रैल

चैती छठ पूजा 2026

  • चतुर्थी - पहला दिन - 22 मार्च
  • पंचमी - दूसरा दिन - 23 मार्च
  • षष्ठी - तीसरा दिन -  24 मार्च (मंगलवार)
  • सप्तमी - चौथा दिन - 25 मार्च

चैती छठ पूजा 2027

  • चतुर्थी - पहला दिन - 10 अप्रैल
  • पंचमी - दूसरा दिन - 11 अप्रैल
  • षष्ठी - तीसरा दिन - 12 अप्रैल (सोमवार)
  • सप्तमी - चौथा दिन - 13 अप्रैल

चैती छठ पूजा 2028

  • चतुर्थी - पहला दिन - 30 मार्च
  • पंचमी - दूसरा दिन -  31 मार्च
  • षष्ठी - तीसरा दिन - 01 अप्रैल (शनिवार)
  • सप्तमी - चौथा दिन - 02 अप्रैल

हरछठ पूजा कब है

Har Chhath Puja Kab Hai यानी हर छठ पूजा कब है, आपको बता दूं कि प्रत्येक वर्ष भादों कृष्ण पक्ष की षष्ठी तिथि को यह त्यौहार मनाया जाता है ! महिलाएं अपने पुत्र के लंबी आयु एवं उनका असामयिक मृत्यु ना हो उसके लिए व्रत करती हैं जिसे हरछठ या हलषष्ठी कहते हैं ! मान्यताओं के अनुसार, इसी दिन श्री कृष्ण के बड़े भाई श्री बलराम का जन्म हुआ था !

Har Chhath Puja Kab Hai
  • 2019 - 22 अगस्त
  • 2020 - 10 अगस्त
  • 2021 - 28 अगस्त
  • 2022 - 17 अगस्त
  • 2023 - 05 सितंबर
  • 2024 - 24 अगस्त
  • 2025 - 14 अगस्त
  • 2026 - 02 सितंबर
  • 2027 - 23 अगस्त
  • 2028 - 12 अगस्त

आशा करती हूं कि आप लोगों यह लेख अच्छा लगा होगा ! अन्य त्योहार एवं पर्व लेख के लिंक नीचे दिए गए हैं ! कृपया इसे भी एक बार जरूर चेक कर लें !