आई आई टी क्या है

About Author: Abuzar Niyazikk

Last Edited: 23 Oct 2019 11:38 PM

आई आई टी क्या है

आई आई टी क्या है ? आई आई टी के लिए किया योग्यता होनी चाहिए ? आई आई टी परीक्षा में प्रयासों की संख्या कितनी है ?

IIT Kya Hota Hai

आई आई टी परीक्षा का फीस कितना है ? ऑनलाइन परीक्षा कैसे दिया जाता है ? इन सभी प्रश्नों का उत्तर आपको इस लेख में मिलेगा, और उसके साथ 2019 आईआईटी का नोटिफिकेशन की जानकारी भी इस लेख में मिलेगा. 

तो चिंता ना करें कि आईआईटी क्या होता है, आइए और विस्तार से बात करते हैं. 

आई आई टी - इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी

यही वह संस्था है जहां से छात्र इंजीनियरिंग करके दुनिया के बड़े से बड़े संस्थाओं में करोड़ों रुपए की पैकेज हासिल करते हैं. गूगल के सीईओ श्री सुंदर पिचाई आईआईटी खड़गपुर इंजीनियरिंग करके 3.52 करोड़ से ज्यादा रुपये प्रतिमाह कमाते हैं. 

भारत में कुल 23 आई.आई.टी के संस्थान हैं यहां से बी-टेक एवं बी आर्क कोर्स होता है. कुल सीटों की संख्या 11,279 है ! जिसके लिए प्रत्येक वर्ष लगभग 12 लाख छात्र एक परीक्षा में शामिल होते हैं. 

एडमिशन के लिए छात्रों को दो चरणों के कठिन परीक्षाओं का सामना करना पड़ता है. कहा जाता है कि दुनिया का सबसे मुश्किल टेस्ट है. अगर इस परीक्षा की प्लानिंग सही समय पर की जाए तो आसानी से इसमें सफलता पाया जा सकता है. 

आई आई टी के लिए किया योग्यता होनी चाहिए

आई.आई.टी - पात्रता - अगर योग्यता की बात की जाए तो 10 प्लस टू यानी बारवीं कक्षा के अपने बोर्ड परीक्षा में शीर्ष 20 फीसदी अंक प्राप्त करने वाले छात्रों में स्थान होनी चाहिए. मान लें कि आपने उत्तर प्रदेश बोर्ड से 12 वीं का परीक्षा पास किया है, और आपने 80 फ़ीसदी नंबर प्राप्त किया हो. 

आई आई टी के परीक्षा में शामिल होने के लिए 80 फ़ीसदी अंक ही पर्याप्त नहीं भी हो सकता है. बशर्ते कि आपका अंक ऊपर के 20 फ़ीसदी छात्रों में है तभी आप बैठ सकते हैं. 

भारत में कुल 32 बोर्ड हैं, जो 12 वीं के लिए परीक्षाओं का आयोजन करता है. रिजल्ट के बाद, हर बोर्ड का मूल्यांकन होता है और मूल्यांकन के आधार पर ही हर बोर्ड का आई आई टी का परीक्षा देने के लिए परसेंटेज तय होता है. 

अगर उम्र की बात किया जाए तो जिस उम्मीदवार का जन्म 01.10.1995 अथवा उसके बाद जन्म हुआ हो वही छात्र 2020 का परीक्षा दे पाएंगे. आरक्षण नीति के अनुसार अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं विकलांग को 5 वर्षों की ऊपरी आयु में छूट मिलता है. 

आई आई टी परीक्षा में प्रयासों की संख्या कितनी है

प्रयासों की संख्या 3 तक सीमित है लेकिन नागालैंड, मध्य प्रदेश एवं उड़ीसा के छात्रों के लिए थोड़ा अलग है. 

आई आई टी परीक्षा का फ़ीस कितना है

पिछले कुछ सालों से IT की परीक्षा पेन पेपर (ऑफलाइन) के अलावा कंप्यूटरीकृत (ऑनलाइन) भी होता है. दोनों ही प्रारूप के परीक्षाओं में शामिल होने के लिए फ़ीस भी भिन्न हैं. 

दो पेपर होता है पहला पेपर बी टेक और दूसरा पेपर बी आर्क का होता है. कोई छात्र चाहे तो दोनों ही पेपरों का परीक्षा में शामिल हो सकता है उसे ऑफलाइन के लिए ₹1800 जबकि ऑनलाइन के लिए ₹1300 चुकाना पड़ता है. 

दोनों पेपरों में से कोई एक पेपर देना चाहे तो ऑफलाइन के लिए ₹1000 जबकि ऑनलाइन के लिए ₹500 चुकाना पड़ता है. लड़कियों, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं विकलांग वर्ग के छात्रों को 50% फ़ीस कम लगता है. 

आई आई टी का ऑनलाइन परीक्षा कैसे दिया जाता है

आई आई टी का ऑनलाइन परीक्षा केंद्र भारत के सभी शहरों में उपलब्ध नहीं है. अभी भी कुछ छोटे शहरों में पेन पेपर यानी ऑफलाइन परीक्षा ही होता है. 

ऑनलाइन फॉर्म भरते समय आपसे सेंटर का चुनाव करने के लिए कहा जाता है. जब आप सेंटर का चुनाव कर लेते हैं तो आपको ऑनलाइन एवं ऑफलाइन माध्यम का चुनाव करने के लिए कहा जाता है. अगर आप के चुने गए सेंटर में ऑनलाइन परीक्षा का सेंटर होता है तभी आप को दिया जाता है. 

जब आप ऑनलाइन एडमिट कार्ड डाउनलोड करते हैं तभी या बाद में आपको लॉगिन ID दी जाती है ! परीक्षा के समय उस ID से लॉगिन करने पर आपको कंप्यूटर पर प्रश्न पत्र के साथ उत्तर पुस्तिका भी दी जाती है. 

जब आप ऑनलाइन फॉर्मेट का परीक्षा देने के लिए परीक्षा केंद्र पर पहुंचते हैं तो वहां पर भी आपको जरूरी प्रशिक्षण दिया जाता है ताकि आप से कोई गलती ना हो जाए. 

आईआईटी 2019 - नोटिफिकेशन

आईआईटी एडमिशन की ताज़ा ख़बर, यह है कि 2019 से अब छात्रों को जेईई मेन्स का परीक्षा देने का मौक़ा 6 बार मिलेगा. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर घोषणा के अनुसार, अब जेईई परीक्षा का संचालन साल में दो बार नेशनल टेस्टिंग एजेंसी करेगा. 

इस नई प्रक्रिया से छात्रों को तीन चांस के जगह अब 6 चांस मिलेंगे. पहली परीक्षा साल के शुरुवात (जनवरी) में और दूसरी परीक्षा अप्रैल में हो सकता है, जबकि जेईई एडवांस की परीक्षा साल में एक बार होने पर चर्चा हो रही है ! ऑनलाइन फॉर्म भरने की प्रक्रिया सितंबर माह से शुरू हो सकती है. 2020 के लिए नोटिफिकेशन नहीं आया है. 

जनवरी 2019 में पहला परीक्षा
  • आवेदन पत्र ऑनलाइन भरने की तिथि - 01 से 30 सितंबर 2018
  • आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि  - 30 सितंबर 2018
  • परीक्षा की तिथि - 06-20 जनवरी 2019
  • रिजल्ट - फरवरी
अप्रैल 2019 में दूसरा परीक्षा
  • आवेदन पत्र ऑनलाइन भरने की तिथि - 08 फरवरी से 7 मार्च  2019
  • आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि  -  7 मार्च  2019
  • परीक्षा की तिथि - 06-21 अप्रैल 2019
  • रिजल्ट - मई
JEE Main 2019 का परीक्षा का पैटर्न

पेपर-1 - बी.ई / बी.टेक

गणित, रसायन विज्ञान और भौतिकी के प्रश्नों की संख्या 30-30 होगा और कुल प्रश्नों की संख्या 90 होगी. प्रत्येक प्रश्न के लिए 4 अंक निर्धारित किया गया है, इस तरह से कुल अंकों की संख्या 360 होगी. 

पेपर- 2 - बी. आर्क / बी.प्लानिंग

गणित - 30, एप्टीट्यूड टेस्ट - 50 और ड्राइंग टेस्ट - 12 प्रश्नों की संख्या होगी, इस तरह से कुल प्रश्नों की संख्या 82 होगी. प्रत्येक प्रश्न के लिए 4 अंक निर्धारित किया गया है, इस तरह से कुल अंकों की संख्या 328 होगी. 

2019 के लिए आई आई टी मेंस एवं एडवांस का तिथि जैसे घोषित होगा आपको इस पेज पर अपडेट मिलेगा. 

कृपया समय-समय पर इस पेज पर विजिट करते रहें. IIT kya hai in hindi से संबंधित अन्य लेख के लिंक नीचे दिया गया है ! कृपया इसे भी एक बार ज़रुर पढ़ें.