व्याकरण क्या है

About Author: M. S. Nashtar

Last Edited: 08 Jul 2019 04:09 AM

vyakaran ki paribhasha, व्याकरण क्या है

Hindi Grammar in Hindi

व्याकरण क्या है बताने से पहले, आप लोगों को भाषा एवं लिपि का थोड़ा ध्यान देना चाहता हूं ! भाषा की शुद्धता के लिए व्याकरण एवं लिपि का ज्ञान अति आवश्यक है !

भाषा क्या है

भाषा शब्द की उत्पत्ति संस्कृत की ‘’भाष’’ धातु से हुआ है और इस धातु का अर्थ वाणी है ! भाषा के माध्यम से मनुष्य के भाव तथा विचार व्यक्त होते हैं !

सामाजिक जीवन में मनुष्यों के बीच भावों एवं विचारों के पारस्परिक आदान-प्रदान का एक सार्थक माध्यम है ! वेन्द्रे के अनुसार, भाषा मनुष्यों के बीच संचार व व्यवहार के माध्यम के रूप में एक प्रतीक व्यवस्था है !

लिपि क्या है

एक मनुष्य दूसरे मनुष्य तक विचारों के आदान-प्रदान के लिए वाणी का उपयोग करता है जो ध्वनि के रूप में होता है ! लेकिन दूर बैठे व्यक्ति वाणी के ध्वनि को सुन नहीं सकता है ! इन्हीं ध्वनियों को चिह्नों द्वारा दूर बैठे व्यक्ति तक भेजा जाता हो या स्थाई ध्वनि बनाया जाता हो, इन्हीं ध्वनियों के चिह्नों को लिपि कहते हैं !

हर भाषा की तरह हिन्दी भाषा का भी लिपि है, अर्थात हिंदी भाषा की वर्णमाला जिस लिपि में लिखी जाती है उसका नाम ‘’देवनागरी’’ लिपि है !

हिंदी व्याकरण का ज्ञान कितना आवश्यक है

हिंदी व्याकरण का महत्व सिर्फ परीक्षाओं की तक सीमित नहीं है ! दैनिक वाणी एवं लेखन में भी उतना ही व्याकरण का महत्व है ! आप लोगों के लिए सरल एवं सुबोध शैली में इस लेख को प्रस्तुत करने का प्रयास करूंगा, कृपया अंत तक ध्यान से पढ़ें !

  • सबसे नमस्ते !
  • सब को नमस्ते !

क्या आप इन दोनों वाक्य से अशुद्धियाँ निकाल सकते हैं, आपको लगता होगा दोनों ही वाक्य ठीक ही हैं ! इसमें पहला वाक्य गलत है ! अब आपको हिन्दी का महत्व थोड़ा पता चल गया होगा !

Vyakaran Ki Paribhasha

व्याकरण की परिभाषा - व्याकरण वह विद्या है जो हमें हिंदी भाषा को शुद्ध बोलना, पढ़ना एवं लिखना सीखता हो, उसे व्याकरण कहते हैं !

व्याकरण भाषा की वह शाखा है जिसमें भाषा के अंग प्रत्यंग का विश्लेषण एवं विवेचन करना सिखाता हो उसे व्याकरण कहते हैं !

व्याकरण के कितने अंग हैं

ध्वनियों के चिह्नों से शब्द बनता है और शब्दों के मेल से वाक्य बनते हैं और इसके आधार पर व्याकरण के अंग बनते हैं ! हिंदी व्याकरण के कुल 3 अंग हैं -

  • वर्ण-विचार
  • शब्द-विचार
  • वाक्य विचार

वर्ण-विचार क्या होता है

वर्ण को अक्षय भी कहते हैं जो अखंड मूल ध्वनि होता है और वह किसी शब्द का खंड हो सकता है ! प्रत्येक वर्ण की ध्वनि अपना एक विशेष आकार रखती है जिसे वर्ण कहते हैं ! हिंदी भाषा में वर्णमाला की संख्या 52 है !

स्वर - 11

अ, आ, इ, ई, उ, ऊ, ऋ, ए, ऐ, ओ, औ !

व्यंजन - 33

क ख ग घ ड़
च छ ज झ ञ
ट ठ ड ढ ण
त थ द ध न
प फ ब भ म

य र ल व
श ष स ह

संयुक्त व्यंजन - 4

क्ष त्र ज्ञ श्र

अनुस्वार या चंद्रबिंदु - 1

(ं) या  (ँ)

विसर्ग - 1

(:)

द्विगुण व्यंजन - 2

ड़ ढ़

कुल वर्णों की संख्या

  • स्वर - 11
  • व्यंजन - 33
  • संयुक्त व्यंजन - 4
  • अनुस्वार या चंद्रबिंदु - 1
  • विसर्ग - 1
  • द्विगुण व्यंजन - 2
  • कुल - 52

शब्द-विचार क्या होता है

अक्षरों से निर्मित सार्थक एवं स्वतंत्र ध्वनि को शब्द कहते हैं ! मैं हिंदी व्याकरण का लेख पढ़ रहा हूं, यह वाक्य 8 शब्दों के मेल से बना है ! हिंदी भाषा में दो लाख से अधिक शब्द हैं !

शब्द के दो भेद होते हैं, जिन शब्द का अर्थ होता है उसे सार्थक शब्द कहते हैं जबकि जिस शब्द का कोई अर्थ नहीं होता उसे निरर्थक शब्द कहते हैं ! बनावट के आधार पर शब्दों के तीन भेद हैं, रूढ़, यौगिक और योगरूढ़ !

प्रयोग के आधार पर शब्द के आठ भेद होते हैं - संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, क्रिया, क्रिया-विशेषण, संबंधबोधक, समुच्चयबोधक और विस्मयादि बोधक !

वाक्य विचार क्या होता है

शब्दों के मेल से वाक्य बनता है जो मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं ! साधारण वाक्य वह वाक्य है जो एक प्रधान क्रिया रखता हो ! संसृष्ट वाक्य, इस वाक्य को कहा जाता है जो अर्थ के लिए एक दूसरे पर आश्रित नहीं होते हैं !

तीसरा भेद - एक मिश्रित वाक्य वह है जो एक प्रधान उपवाक्य और एक अथवा अथवा आश्रित उपवाक्य रखता हो !

साधारण वाक्य - मैं यहां आया और बीमार पड़ गया !

संसृष्ट वाक्य - पुलिस के हवाले कर दूं !

मिश्रित वाक्य - तब डाकू ने डाका डालने की योजना तैयार कर ली !

Hindi Grammar in Hindi - कुल्हैया.कॉम हिंदी का सर्वश्रेष्ठ एवं प्रमाणिक वेबसाइट है जिसमें प्रतियोगिता परीक्षा के मानकों के स्तर के अनुरूप हिंदी व्याकरण एवं साहित्य से संबंधित लेख उपलब्ध कराता है !

 

संबंधित लेख - जरूर पढ़ें

 

Related Posts