गैजेट्स इन हिंदी - Gadgets in Hindi

About Author: Chandan Kumar

Last Edited: 10 Mar 2019 04:33 AM

गैजेट्स इन हिंदी - Gadgets in Hindi

गैजेट्स मीनिंग इन हिंदी

गैजेट्स एक छोटा उपकरण है, जो मनुष्य के कार्य को आसान बनाता है जैसे वाशिंग मशीन, वैक्यूम क्लीनर और मोबाइल फोन आदि!

गैजेट्स मीनिंग इन हिंदी में देखें तो इस शब्द का मतलब होता है जुगत या जुगाड़ या मशीन !

  • जुगत संग्रह
  • यंत्र
  • मशीन 
  • औजार

दुनिया तेजी से बदल रहा है लोगों के पास समय की कमी हो रही है और वह अपना काम मशीनों से घर में करना पसंद करते हैं जिससे उसे आराम मिलता है उसके साथ समय की बचत होती है !

आज के समय ज्यादातर गैजेट्स इलेक्ट्रॉनिक सिद्धांतों से संचालित होते हैं क्योंकि इसमें इलेक्ट्रिसिटी (विद्युत) ऊर्जा का उपयोग होता है जो पोलूशन फ्री के साथ-साथ हर जगह उपलब्ध होता है !

गैजेट्स शब्द उत्पत्ति विवादित रहा है पर इस समय गैजेट्स शब्द का उपयोग प्रयोग घरेलू प्रौद्योगिकी के साथ-साथ उद्योगिक उपकरण के रूप में निरंतर इस्तेमाल हो रहा है !

गैजेट्स का इतिहास

एक समय था जब मनुष्यों ने अपना आशियाना जंगलों को चुना था उस समय भी वह गैजेट्स का उपयोग कर रहे थे जो इलेक्ट्रॉनिक सिद्धांतों पर आधारित नहीं थे जैसे कुल्हाड़ी बरछा व चक्का आदि थे !

जैसे-जैसे समय बदला वैसे ही विभिन्न सभ्यताओं का विकास हुआ जिसमें मनुष्य ने मशीनों के उपयोग को प्राथमिकता दी और यह भी देखा गया जिस सभ्यता के लोगों ने सबसे पहले मशीनों का उपयोग किया वह सबसे ज्यादा सक्षम हुए !

गेजेट्स आविष्कारक के नाम 

  • एक्स रे - मैडम क्यूरी व पियरे क्यूरी   
  • एलसीडी (LCD) - होफमन-ला रोश
  • एरोप्लेन - ऑरविल राइट और विलबर राइट
  • बॉल पाइण्ट पेन - लाज़्लो बिरो
  • थर्मामीटर - गैलेलियो गैलिली
  • खगोलीय दूरदर्शक - गैलेलियो गैलिली
  • बैरोमीटर - इव्हांगेलिस्टा टोर्रिसेली
  • पेण्डुलम घड़ी - क्रिश्चन हाइजेन्स
  • मशीन गन - जेम्स पक्ले
  • एफ एम रेडियो - एड्विन एच आर्मस्ट्रांग
  • आवर्धक लेंस - रोजर बेकन
  • बाइफोकल लेंस - बेंजामिन फ्रेंकलिन
  • पैराशूट - लुइस एस. लेनोर्मांड
  • साईकल  - कार्ल डी. वॉन सौरब्रोन
  • इलेक्ट्रिक मोटर - माइकल फैराडे
  • माइक्रोफोन - चार्ल्स व्हीटस्टोन
  • एसी डॉयनेमो - माइकल फैराडे
  • टेलीग्रॉफ - सैमुएल एफ. बी. मोर्स
  • सिलाई मशीन - एलियास होवे
  • सेफ्टी पिन - वाल्टर हण्ट
  • लिफ्ट - एलिशा जी. ओटिस
  • डाइनामाइड - अल्फ्रेड नोबल
  • डीजल इंजन - रुडोल्फ डीजल
  • डॉयनेमो - निकोला टेस्ला
  • टाइपराइटर - क्रस्टोफर शोलेज व कार्लोस ग्लिडन
  • इलेक्ट्रिक लैम्प - ए. ई. बेक्वेरेल
  • मोटरसाईकल - एडवर्ड बटलर
  • माइक्रोवेव ओवन - पर्सी स्पेन्सर
  • फाउण्टेन पेन - लेविस ई. वाटरमैन
  • इलेक्ट्रिक ट्रांसफार्मर - विलियम स्टेनले
  • इलेक्ट्रोकॉर्डियोग्राफी - आगस्तुस वाल्टर
  • टेप रेकॉर्डर - वाल्डेमर पौल्सेन
  • स्टोव - हडावे   
  • रेज़र - किंग जिलेट
  • वाशिंग मशीन - एल्वा फिशर
  • एयरकण्डीशनिंग - विलिस कैरियर
  • कार रेडियो - विलियम लीर और एल्मर वैवरिंग
  • कॉम्पैक्ट डिस्क (CD) - आरसीए

मशीनों के उपयोग से मनुष्य का कार्यप्रणाली पहले से ज्यादा विश्वसनीय और कुशल हो गया, जो देश या सभ्यता के लोग मशीनों का इस्तेमाल में पीछे रह गए, उनका विकास अभी तक संभव नहीं हो पाया है !

गैजेट्स और भारत

गैजेट्स का प्रयोग घरेलू प्रौद्योगिकी के साथ-साथ उद्योगिक उपकरण के रूप में होना शुरू हुआ था क्योंकि भारतीय भाषा हिंदी है यह शब्द का उदय भारत में बाद हुआ था !

भारत की बड़ी आबादी को देखते हुए दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने भारत में उपयोग होने वाले गैजेट्स का खोज किया और आज के समय भारत दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है! मल्टीटूल उपयोग में भी भारत अव्वल रहा है इसकी इतिहास गवाह है ! मध्यकालीन भारत में इस्तेमाल होने वाले गैजेट्स के कुछ नाम हैं जैसे ओखली, हल, चरखा व चारपाई आदि हैं !

आधुनिक भारत में गैजेट्स का इस्तेमाल होने की पद्धति ही बदल गई जिसमें इलेक्ट्रॉनिक्स ने अपना जगह हासिल कर लिया उसके बाद से आज के समय गैजेट्स उसे को मानते हैं जो इलेक्ट्रॉनिक सिद्धांतों पर आधारित हो और मनुष्य काम को आसान करते दे !

मशीन क्या है

मशीन की परिभाषा - मैकेनिकल शक्तियों का उपयोग कर के एक उपकरण बनकर तैयार होता है जो एक निश्चित कार्य करता है जो रासायनिक, थर्मल, या बिजली आदि ऊर्जा से चलता है !

दुनिया का पहला मशीन कौन था

दुनिया का पहला मशीन साक्ष्य दो मिलियन वर्ष पूर्व का है जिसकी शुरुआत अफ्रीका में हुई थी! मशीन यानी औजार का इस्तेमाल सबसे पहले होमो हैबिलिस नामक मनुष्य के जाति ने पत्थर का कुल्हाड़ी बनाकर किया था !

मशीन के बारे में जानकारी

मशीन डिजाइन इंजीनियरिंग अनुप्रयोगों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, लेकिन लोग पूछते हैं कि एक मशीन क्या है?

Machine एक विस्तृत योजना है जिसमें स्थिर भागों के अलावा चलती भागों शामिल किया जाता हैं जिससे ऊर्जा उत्पन्न और उन ऊर्जाओं का उपयोग एक समायोजित कार्यों के लिए किया जाता है !

उदाहरण के तौर पर अगर हम लेथ मशीन की बात करें तो जिसमें स्थिर और अस्थिर कलपुर्जों को मिलाकर ऊर्जा उत्पन्न की जाती है और उस एनर्जी से मेटल को काटा जाता है तो कह सकते हैं कि लेफ्ट मशीन एक मशीन काटने का औजार है!

उर्जा के सिद्धांत के अनुसार ऊर्जा करना तो निर्माण किया जा सकता है ना ही इसे व्यर्थ क्या जा सकता है जबकि ऊर्जा को एक फोर्म से दूसरे फोर्म में बदला जा सकता है ! लेथ मशीन को हाथों से एनर्जी दिया जा सकता है या फिर से किसी और अन्य संसाधनों से जैसे विद्युत या अन्य मशीन से !

मशीन के प्रकार

यांत्रिक ऊर्जा के आधार पर अगर मशीनों को वर्गीकृत किया जाए तो प्रमुखता तीन प्रकार से किया जा सकता है

  1. यांत्रिक ऊर्जा जनरेट करने वाली मशीन
  2. यांत्रिक ऊर्जा को परिवर्तित करने वाली मशीन
  3. यांत्रिक ऊर्जा का उपयोग करने वाली मशीन 
हिंदी टेक गुरु क्या है

हिंदी टेक गुरु,आपको गैजेट्स की विस्तृत जानकारी देता है जिनमें शामिल है उनका उपयोग, आपका कितना फायदेमंद है , नए पुराने गैजेट्स की व्याख्या, किस काम के लिए कौन सी गैजेट्स खरीदना चाहिए और उसकी गैजेट्स के बेहतरीन ब्रांड कौन सी है !

आज के समय में डिजिटल मीडिया का दौर तेजी से बढ़ रहा है उसी क्रम में लोगों के पास समय की कमी होती है जिसे वह TV पर नहीं देख पाते हैं, लेकिन वेबसाइट पर टेक गुरु द्वारा दिया गया जानकारी हमेशा उपलब्ध रहता है! हिंदी टेक गुरु हमेशा हिंदी भाषा का प्रयोग करते हैं जिससे हम भारतीयों के लिए टेक ज्ञान बढ़ाने में आसानी होती है !

टेक ज्ञान क्या है

टेक ज्ञान उसे कहा जाता है जिसमें गैजेट्स की विस्तृत जानकारी का उपयोग करके सबसे बेहतरीन और उपयोगी गैजेट्स की खरीदारी की जाती है वह भी सबसे सस्ते दामों पर! कहा जाता है कि ज्ञान कभी भी बेकार नहीं होता उसी प्रकार के ज्ञान हमेशा आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है !

टेक ज्ञान के फायदे
  • आये दिन नये गैजेट्स मार्केट में लॉन्च होता है, अगर आपके पास भी ज्ञान हो तो उसका आप सही पड़ताल कर सकते हैं जिसमें ठाकाने का डर बिल्कुल नहीं रहता है !
  • हर गैजेट्स की अपनी कुछ खूबियों के साथ खामियां भी होती है अगर आपके पास टेक ज्ञान हो तो अपने रिक्वायरमेंट के अनुसार उसे पसंद कर सकते हैं !
  • गैजेट्स के दामों में अंतर होता है वह उसके ब्रांड के साथ-साथ उसके टेक्नोलॉजी पर भी डिपेंड करता है!
  • आज के समय ज्यादातर गजेट्स इलेक्ट्रॉनिक सिद्धांतों पर बनता है तो देखने वाली बात यह होती है कि उसका पावर कितना लेता है उसके हिसाब से ही आपका बिजली बिल आता है !
  • गैजेट्स का इस्तेमाल ले कर रखरखाव अगर सही तरीके से हो तो वह लंबे समय तक चलता है !
  • गैजेट्स की खरीद ऑनलाइन क्या जाए या दुकानों से किया जाए कहां सस्ता मिलेगा !
  • कौनसा गजट आज के समय में आउटडेटेड है और कौन उपयोगी है आने वाले समय में, जैसे भारतीय उपभोक्ताओं ने आज से कुछ महीने पहले तक महंगे 3G मोबाइल खरीदा था उसे आज पछतावा हो रहा है कि हमने 4जी मोबाइल क्यों नहीं खरीदा था !
भारत में उपयोग होने वाले कुछ घरेलू गैजेट्स के नाम
  • वातानुकूलन - एयर कंडीशन
  • पंखा
  • एयर कूलर
  • एयर फ्रायर
  • वायु शोधक - एयर प्यूरीफायर
  • वैक्यूम क्लीनर
  • बॉयलर
  • पानी गर्म करने वाला मशीन
  • थर्मामीटर
  • थर्मामस
  • बर्तन साफ़ करने वाला
  • हीटर
  • वॉशिंग मशीन
  • प्रेशर कुकर
  • हेयर ड्रायर
  • इस्त्री - इलेक्ट्रिक आयरन
  • होब (चूल्हा
  • टेलीविजन
  • वाशिंग मशीन
  • मोबाइल फोन
  • माइक्रोवेव ओवन
  • फ्रिज
  • बल्ब
  • घड़ी
  • बैटरी
  • कंप्यूटर
  • लैपटॉप
  • टेबलेट
  • स्मार्ट वॉच
  • स्पीकर
  • म्यूजिक सिस्टम
  • सिलाई मशीन
  • आदि

टेक्नोलॉजी से संबंधित आर्टिकल के लिंक नीचे दिए गए हैं अपने रुचि के अनुसार सेलेक्ट करके पढ़ें !