एड्स फुल फॉर्म

By: Dr. K. K. Jha Last Edited: 02 Mar 2019 04:30 AM

hiv meaning in hindi, hiv full form in hindi, hiv full form hindi, hiv ki full form, aids ki full form, hiv aids ki full form, एड्स फुल फॉर्म

एड्स फुल फॉर्म के साथ आपको मैं अन्य जानकारी भी देना चाहता हूं जो आप का ज्ञान बढ़ा सकता है ! एड्स दिवस 1 दिसंबर को मनाया जाता है !

एड्स दिवस का मुख्य लक्ष्य है लोगों में एड्स के प्रति जागरूकता फैलाना है ! क्योंकि यह बीमारी दुनिया का सबसे घातक बीमारियों में से एक है जिसका अभी मुकम्मल इलाज नहीं है !

इस बीमारी का जानकारी ही बचाव है, इसलिए आपसे गुजारिश करता हूं कि लेख को अंत तक जरूर देखें !

HIV AIDS Ki Full Form

HIV AIDS Ki Full Form aksar log puchhate hain ?  इसलिए मैं आपको बताना चाहता हूं कि HIV का फुल फॉर्म Human Immune Deficiency Virus है अगर इसे हिंदी में कहें तो ह्यूमन इम्यूनो डेफिशिंसी वायरस !

AIDS का फुल फॉर्म Acquired Immune Deficiency Syndrome है जबकि हिंदी में एक्वायर्ड इम्यून डेफिशिएन्सी सिंड्रोम कहते हैं !

Meaning in Hindi

एचआईवी एक वायरस का नाम है जिसके कारण दुनिया का सबसे घातक बीमारी एड्स होता है ! एचआईवी कोई हिंदी नाम नहीं है ! एचआईवी वायरस एक मनुष्य में दूसरे मनुष्य तक रक्त एवं सीमेन के द्वारा संक्रमण करता है !

HIV Ki Full Form Aur AIDS Ki Full Form

  • HIV - Human Immune Deficiency Virus
  • HIV Full Form in Hindi - ह्यूमन इम्यूनो डेफिशिंसी वायरस
  • AIDS - Acquired Immune Deficiency Syndrome
  • AIDS Full Form in Hindi - एक्वायर्ड इम्यून डेफिशिएन्सी सिंड्रोम

उम्मीद करता हूं कि आपको Hiv full form in hindi Aur Hiv full form hindi पता चल गया होगा अब यह जान लें कि यह बीमारी कितना खतरनाक है !

एड्स रहे सावधान

भारत में प्रत्येक वर्ष 1 मिलियन (दस लाख) से ज्यादा एड्स रोगी की पहचान हो रही है, जिसका आज तक संपूर्ण इलाज विकसित नहीं हुआ है !

एड्स के शुरुआती लक्षण

एड्स के शुरुआती लक्षण में फ़्लू जैसी लक्षण होती है बुख़ारी गले में खराश, रात में पसीना आना, थकान व वजन घटना आदि शामिल होता है !

इस बीमारी के कोई ऐसे लक्षण नहीं है जिससे आप कह सकते हैं कि वह एड्स का मरीज़ है ! टेस्ट के द्वारा ही प्रमाणित हो सकता है कि वह एड्स का मरीज़ है!

यह कैसे फैलता है

HIV एक विषाणु है जिस से एड्स होता है यह खून एवं सीमेन के द्वारा एक आदमी से दूसरे आदमी में पहुंचता है !

अशुद्ध सुई यानि की सिरिंज के प्रयोग से भी यह वायरस एक आदमी से दूसरे आदमी तक पहुंच सकता है ! एक्सीडेंटल केस में भी खून की आवश्यकता होती है अगर किसी व्यक्ति को अशुद्ध खून चढ़ाया जाए तो उसे भी एड्स हो सकता है !

गर्भावस्था में पल रहा शिशु को भी एड्स हो सकता है अगर उनके माता को एड्स है ! एड्स मरीज द्वारा इस्तेमाल किया गया अस्तूरा या शेविंग ब्लेड के द्वारा भी संक्रमित हो सकता है !

Difference between HIV and AIDS in Hindi

HIV एक विषाणु (वायरस) का नाम है जो मनुष्य के अंदर ना हो तो अजीवित रहता है जबकि मनुष्य के अंदर रहे तो अपने आप यह वायरस जीवित हो जाता है ! इस वायरस का जेनेटिक मटेरियल RNA है ! इस वायरस का पूरा नाम ह्यूमन इम्यूनो डेफिशिंसी वायरस है !

इस वायरस के संक्रमण से एड्स की बीमारी होती है ! एड्स बिमारी का पूरा नाम एक्वायर्ड इम्यून डेफिशिएन्सी सिंड्रोम है !

HIV रोगज़नक़ यानी कि पैथोजन है जबकि AIDS एक बीमारी का नाम है ! HIV के संक्रमण से ही एड्स की बीमारी उत्पन्न होती है ! AIDS-HIV से संबंधित अन्य लेख के लिंक्स से नीचे दिए गए हैं !