चीन की जनसंख्या कितनी है

By: M. S. Nashtar Last Edited: 13 Jan 2019 07:23 PM

Cheen Ki Jansankhya Kitni Hai

Cheen Ki Jansankhya Kitni Hai

Cheen ki jansankhya kitni hai ? चीन की जनसंख्या से संबंधित जानकारी चाहते हैं, और भारत की जनसंख्या से चीन की जनसंख्या का क्या ताल्लुक है ? क्या कभी भारत की जनसंख्या चीन की जनसंख्या से आगे निकल जाएगा ? इन सभी प्रश्नों के उत्तर जाते हैं तो, कृपया इसे अंत तक ज़रुर देखें !

चीन की जनसंख्या 2019

मई 2019 के डाटा के अनुसार, चीन की कुल जनसंख्या 1,414,536,279 (141 करोड़) है ! जो उसे विश्व का जनसंख्या के आधार पर सबसे बड़ा देश बनाता है ! आपको बता दूं कि 1950 में चीन की जनसंख्या लगभग 55 करोड़ हुआ करता था !

चीन का जनसंख्या घनत्व 141 किलो मीटर स्क्वायर, और इस देश का क्षेत्र-फल 9,388,211 किलो मीटर स्क्वायर है ! चीन की आबादी ज्यादा शहरी जिंदगी बिताते हैं ! अगर प्रतिशत की बात करें तो 59.3 % है ! दुनिया का लगभग 18.54 प्रतिशत लोग चीन में रहते हैं !

क्या चीन की जनसंख्या तेजी से घट रहा है

चीन को बूढ़ों का देश क्यों कहा जाता है ? चीन के 141 करोड़ की आबादी में 22 करोड़ लोग ऐसे हैं जिसकी उम्र 60 साल से ज्यादा है !

चीन में औसत आयु (median age) 37.3 साल है, यानी कि आयु का एवरेज निकाले तो 37.3 साल होता है ! पिछले चार-पांच दशक पहले यहां पर एक संतान की नीति को अपनाया गया था ! जिस कारण चीन की जनसंख्या वृद्धि दर तेजी से गिरता जा रहा है ! वहां की आबादी बहुत धीरे-धीरे बढ़ रहा है !

जब आने वाले सालों में 60 साल की उम्र से ज्यादा वाले लोगों की मौत होने पर, अचानक चीन की आबादी में गिरावट दर्ज किया जा सकता है ! चीन का जनसंख्या वृद्धि दर (प्रतिवर्ष) मात्र 0.5 प्रतिशत है ! जबकि भारत का 1.2 प्रतिशत है !

चीन के बाद किस देश की जनसंख्या सबसे अधिक है 

चीन के बाद, भारत की जनसंख्या सबसे अधिक है ! लेकिन आने वाले वर्ष 2025 में, जनसंख्या वृद्धि के अनुमान के अनुसार चीन की आबादी 1,438,835,697 होगा ! अगर भारत का मौजूदा जनसंख्या वृद्धि दर जारी रहा तो, भारत की आबादी वर्ष 2025 में चीन की 143 करोड़ की आबादी के रेखा को आसानी से पार कर सकता है !

आने वाले सालों में चीन की जनसंख्या

  • 2020 - 1.42 अरब
  • 2030 - 1.44 अरब
  • 2040 - 1.42 अरब
  • 2050 - 1.36 अरब
  • 2075 - 1.17 अरब
  • 2100 - 1.02 अरब

हम भारतीयों को, अब पहले से ज्यादा जनसंख्या के प्रति जागरुक होने की आवश्यकता है ! भारत पहले से ही दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र होने का गौरव हासिल कर चुका है !