भारत के राष्ट्रपति का वेतन कितना है  

भारत के राष्ट्रपति का वेतन कितना है

भारत के राष्ट्रपति का सैलरी

Rashtrapati Salary या Rashtrapati Vetan शब्दों के जरिए आप जानना चाहते हैं कि भारत के राष्ट्रपति का वेतन कितना है ? भारत के उपराष्ट्रपति का वेतन कितना है और राज्यपाल का वेतन कितना है ? आपको संपूर्ण जानकारी इस लेख में मिलेगा ! कृपया अंत तक जरूर पढ़ें !

Rashtrapati Salary Per Month

फरवरी 2018 से पहले भारत के राष्ट्रपति को प्रति माह 1.50 लाख रुपये, उपराष्ट्रपति 1.25 लाख रुपये और राज्य के राज्यपाल 1.10 लाख रुपये मिलता था ! 1951 में भारत के राष्ट्रपति को वेतन रूप में दस हजार रुपये का था !

Rashtrapati Vetan - नया वेतन 2018

Rashtrapati Salary, Rashtrapati Vetan

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट सत्र 2018 में राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति एवं राज्यपाल के वेतन में वृद्धि के बारे में सदन को बताया था !

आपको जैसा कि पता होगा, भारत का सर्वोच्च संवैधानिक पद राष्ट्रपति का होता है और उसके अनुसार राष्ट्रपति का प्रतिमाह वेतन भी भारत में सबसे ज्यादा होना चाहिए !

लेकिन 1 जनवरी, 2016 को 7 वें वेतन आयोग के सिफारिशों के अनुसार नौकरशाह कैबिनेट सचिव प्रति माह 2.5 लाख रुपये हो गया था जो राष्ट्रपति के वेतन (1.50 लाख रुपये) से ज्यादा था !

इस विसंगति के सुधार के लिए 200% प्रतिमाह वेतन वृद्धि किया गया, जिससे भारत के राष्ट्रपति का डेढ़ लाख से 5 लाख रुपया वेतन हो गया ! 

वर्तमान समय में भारत के राष्ट्रपति का वेतन 5 लाख रुपये, उपराष्ट्रपति का वेतन 4 लाख रुपये और राज्यपाल का वेतन 3.5 लाख रुपये प्रति माह है !

भारत के राष्ट्रपति को वेतन के अलावा

भारत के राष्ट्रपति को 5 लाख रुपये वेतन मिलता है जो पूरी तरह टैक्स फ्री होता है उनके अलावा -

  • फ्री स्वास्थ सुविधा (जीवन भर)
  • फ्री रहना सहना (राष्ट्रपति भवन)
  • यातायात की सभी सुविधाएँ
  • सुरक्षा, आदि.

दुनिया के सबसे बड़ा राष्ट्रपति भवन

भारत के वर्तमान राष्ट्रपति का आधिकारिक आवास राष्ट्रपति भवन है ! भारत के राष्ट्रपति भवन को दुनिया का सबसे बड़ा राष्ट्रपति भवन माना जाता है क्योंकि इस महल में 340 कमरे हैं और यह भवन 5 एकड़ जमीन पर बना हुआ है !

पूरा राष्ट्रपति भवन का क्षेत्र 330 एकड़ है जो दिल्ली के दिल में स्थित है ! इस आलीशान महल रखरखाव के लिए 200 कर्मचारी कार्यरत है और कई उच्च अधिकारी भी इस के सचिवालय में काम करते हैं !

राष्ट्रपति भवन के रसे खाव के लिए 30 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया जाता है ! भारत के राष्ट्रपति छुट्टी मनाने के लिए हैदराबाद में निलायम है और शिमला में रिट्रीट बिल्डिंग जाते हैं !

भारत के राष्ट्रपति का यात्रा

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी मर्सिडीज-बेंज एस 600 कार से यात्रा करते थे ! वर्तमान राष्ट्रपति के सम्मान के लिए 25 कारों काफिला होता है और उसके साथ शानदार 86 घोड़ों गार्ड शामिल होता है ! राष्ट्रपति और पति या पत्नी दुनिया में किसी भी जगह मुफ्त में यात्रा कर सकते हैं।

पूर्व राष्ट्रपति को मिलने वाला सुविधा

राष्ट्रपति के कार्यकाल पूरा (रिटायर) होने के बाद उसे प्रतिमाह 75000  रुपये का पेंशन मिलता है, और डिपेंडेंट को ₹30000 प्रतिमाह मिलता है!

भारत के सेवानिवृत्त राष्ट्रपति को मौजूदा राष्ट्रपति और प्रधान मंत्री के बाद सबसे अच्छा किराया मुक्त आवास दिया जाता है।

पूर्व राष्ट्रपति को दो लैंडलाइन और एक मोबाइल फोन भी दिया जाता है जिसके बिल का भुगतान भारत सरकार करता है ! एक निजी सचिव के साथ पांच निजी कर्मचारी को पूर्व राष्ट्रपति के लिए आवंटित किए जाते हैं !

पूर्व राष्ट्रपति को भारत सरकार की तरफ से कार दिया जाता है और उसके साथ 60,000 कर्मचारी भत्तों के रूप में दिया जाता है !

अगर वे आधिकारिक कार की बजाए यात्रा के लिए अपने निजी वाहन का उपयोग करते हैं तो भारत सरकार उसके ड्राइवर का वेतन देता है ! पूर्व राष्ट्रपति को एक महीने में 250 लीटर मुफ्त पेट्रोल भी दिया जाता है।

सेवानिवृत्ति के बाद भी, हवाई और ट्रेन से यात्रा राष्ट्रपति के लिए मुक्त होता है ! यात्रा के समय अपने साथ एक व्यक्ति को फ्री यात्रा करा सकते हैं !

भारतीय संविधान के आर्टिकल 52 में राष्ट्रपति के वेतन से संबंधित तथ्य लिखे गए हैं ! दोस्तों, उम्मीद करता हूं कि आप को Rashtrapati Salary या Rashtrapati Vetan यानि भारत के राष्ट्रपति का वेतन कितना है से संबंधित लेख पसंद आया होगा ! अन्य संबंधित लेख के लिंक्स नीचे दिए गए हैं, कृपया इसे भी एक बार जरूर पढ़ें !

 संबंधित लेख - जरूर पढ़ें