कटिहार के इन नए क्षेत्रों में घुसा बाढ़ का पानी

Katihar flood news, कटिहार बाढ़ समाचार

लोगों का पलायन

भय की स्थिति

15 August - 3pm katihar 

सीमांचल में इन दिनों सैलाब ने विकराल रूप लिया हुआ है जिसने 70 लाख से ज्यादा लोगों को प्रभावित किया है ! पूर्णिया, अररिया, किशनगंज के बाद अब कटिहार में विकराल रूप अपना लिया है! ताजा समाचार के अनुसार गूठेली और झौआ में बांध टूट गया है जिससे हसनगंज प्रखंड के ज्यादातर गांव में बाढ़ का पानी प्रवेश कर रहा है ! शीतलपुर पंचायत के एक बुजुर्ग बताते हैं कि 1987 में भी यह बड़ा बाढ़ है !

सोमवार को सुबह-सुबह महानंदा तटबंध के शिवगंज के पास बांध टूट गया है जिससे कदवा, कंटिया, पेलागढ़, भोगांव, कुरसेल के अलावे बांध के अंदर बसे भर्री, जाजा, तेतालिया, गोपीनागर, धनागामा, धपरसिया, गैथोरा, परभेली, सागरथ, कुम्हरी, निस्ता, चंदहर, शिकारपुर, बिझारा, तैयाबपुर सहित पूरे प्रखंड में जल प्रलय की स्थिति उत्पन्न हो गया है !

भारी बारिश एवं नेपाल द्वारा छोड़े गए पानी से महानंदा में आई ऊफान को तटबंध झेल नहीं पा रहे हैं! कदवा से प्राणपुर प्रखंड के चार जगह पर तटबंध टूट चुका है ! कटिहार के छह प्रखंडों की दस लाख की आबादी बाढ़ के चपेट में है ! कटिहार के कदवा, आजमनगर, प्राणपुर, बारसोई, बलरामपुर एवं डंडखोरा प्रखंडों  भयानक बाढ़ आ चुका है !

दूरदराज के इलाकों में हजारों लोग फंसे हुए हैं जो घर के छत के ऊपर मदद की उम्मीद कर रहे हैं ! इस इलाके का ज्यादातर मवेशियों बाढ़ में बह चुका है! लोगों में भय की स्थिति है,  अगर समय पर लोगों को मदद नहीं मिला तो मरने मरने वालों की संख्या बहुत ज्यादा हो सकती है ! उधर पूर्णिया, अररिया और किशनगंज से जल स्तर घटने का समाचार मिल रहा है !

Bihar Flood Related Searches

मुजफ्फरपुर सीतामढ़ी गोपालगंज सिवान बाढ़ समाचार

प्रधानमंत्री नरेंद्र कुमार मोदी से मांग

मरने वालों संख्या, महामारी के संकेत 

आक्रोशित बाढ़ पीड़ितों ने नेशनल हाईवे किया जाम

कटिहार बाढ़ समाचार 

श्री नीतीश कुमार ने माना अब तक का सबसे बड़ा सैलाब 

अमौर, बैसा व बायसी बाढ़ समाचार 

अररिया बाढ़ समाचार

पुर्णिया बाढ़ समाचार

किशनगंज बाढ़ समाचार

बाढ़ के बारे में निबंध  - बाढ़ पर लेख - बाढ़ क्या है

बाढ़ के कारण - बाढ़ आने के कारण

बाढ़ के प्रभाव - बाढ़ के नुकसान

बाढ़ से बचने के उपाय

बाढ़ समाचार बिहार 

Flood News