First MP of Kulhaiya Beraderi - Mohammad Tahir Purnea

By: M. S. Nashtar Last Edited: 28 Oct 2019 02:48 AM

First MP of Kulhaiya

First MP of Kulhaiya Beraderi - Mohammad Tahir Purnea. आप में से कई लोग ऐसे हैं जो इंटरनेट पर First MP of Kulhaiya Beraderi को सर्च किया होगा. लेकिन आपको अभी भी पूरी जानकारी हिंदी में नहीं मिला होगा. आइए विस्तार से जानते हैं Mohammad Tahir MP के बारे में.

कुल्हैया समाज के प्रथम मेंबर ऑफ पार्लियामेंट का नाम मोहम्मद ताहिर है जो मजगमा बाडा़ ईदगाह पूर्णिया से हैं. उनकी शख्सियत इतनी खास थी कि ब्रिटिश सरकार में भी वह बड़े पदों पर काबिज रहे हैं. उसके साथ साथ हुआ मुस्लिम लीग के वकील थे. 

उनका जन्म 1903 में मजगमा नाम के एक गांव में हुआ था. मजगमा गांव मौजूदा समय कसबा प्रखंड के अंतर्गत आता है. मजगमा गांव बाडा़ ईदगाह से 3 किलोमीटर दक्षिण स्थित है. 

उनके पिताजी का नाम मोहम्मद तल्हा है. उन्होंने उस जमाने में जिला स्कूल पूर्णिया और एम.ए.ओ कॉलेजिएट स्कूल से स्कूल की शिक्षा हासिल किया था. उन्होंने वकालत की डिग्री अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से हासिल किया था. 

उन्होंने अपने कैरियर की शुरुआत वकालत से शुरू किया था. वह भारतीय मुस्लिम लीग के जाने-माने वकील रहे हैं. वह 1930 में डिस्टिक बोर्ड पूर्णिया के वाइस चेयरमैन बने थे. 

1941 में ब्रिटिश राज में भारतीयों को सरकार में प्रतिनिधित्व दिया था. जिसमें श्री ताहिर 1941 में बिहार लेजिसलेटिव असेंबली के मेंबर रहे थे. 

होम पेज

1957 से लेकर 1967 तक पूर्णिया लोकसभा क्षेत्र के सांसद रहे थे. पूर्णिया लोकसभा क्षेत्र उस समय बहुत बड़ा हुआ करता था. जिसमें किशनगंज और अररिया जिले का क्षेत्र भी शामिल था. 

उसकी सबसे बड़ी देन

उन्होंने अपने कार्यकाल में पूर्णिया प्रमंडल में कई शैक्षणिक संस्थाओं का स्थापना किया. लेकिन उनका सिद्धांत था कि वह कभी भी श्रेय नहीं लेते थे. उनका वसीयत था कि मेरे मरने के बाद किसी भी बोड पर उनका नाम नहीं होना चाहिए. 

कुछ जानकार यह भी मानते हैं कि सीमांचल के 4 जिले अगर अभी भारत का हिस्सा है तो इसमें सबसे बड़ा योगदान मोहम्मद ताहिर साहेब का है. 

मोहम्मद ताहिर साहब का भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू से बहुत नज़दीकी रिश्ता था. वे पूरी जिंदगी कांग्रेस पार्टी के नेता रहे थे. 

कुल्हैया बिरादरी के प्रथम एमपी आपको यह सिखाता है कि, गुलाम भारत में भी उन्होंने बेहतरीन एजुकेशन हासिल किया. अपने समाज का प्रतिनिधित्व भारत के सबसे उच्च सदन में किया. जो हम सबके लिए एक गर्व की बात है.

उनके परिवार के सदस्यों से अनुरोध है - हमारी टीम आप लोगों से कई बार संपर्क स्थापित करने का कोशिश किया लेकिन अब तक हम लोग नाकाम रहे हैं. कुल्हैया बिरादरी के पहले सांसद के बारे में हमें और भी जानकारी चाहिए. हो सके तो उनका फोटो भी हमारे साथ साझा करें.