ग्रामीण क्षेत्रों में रोड एक्सीडेंट में मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ रहा है

By: M. S. Nashtar Last Edited: 28 Oct 2019 03:11 AM

ग्रामीण क्षेत्रों में रोड एक्सीडेंट

अक्सर मेरे बाहर के मित्र पूछते हैं कि आपके सीमांचल क्षेत्र में ट्रांसपोर्ट पहले से क्या बेहतर हुआ है ? मेरा उत्तर होता है कि वाकई पहले से काफी ज्यादा सुधार हुआ है. यही नहीं डिस्टिक हेडक्वार्टर से दूर दराज के इलाकों में भी बहुत अच्छे रोड बन चुके हैं. 

मैं इसके लिए बिहार सरकार की तारीफ करता हूं कि उन्होंने वाकई यातायात के रोड को बहुत बेहतर कर दिया है. सैलाब से टूटने के बाद भी सरकार उसे 6 महीने के अंदर ठीक कर देता है. 

रोड बेहतर होने के बाद सबसे ज्यादा मौत अब रोड एक्सीडेंट से ही हो रहा है. शहर एवं कस्बों में पुलिस की निगरानी में वाहन चालक वाहन चलाते हैं. 

होम पेज

लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में वाहन चालक पुलिस के गैरमौजूदगी में वाहन चलाते हैं. किसी ड्राइवर को अगर वाहन चलाने का लाइसेंस नहीं भी है तो वह वाहन चला रहे हैं. 

बिहार में शराब बंद है लेकिन अभी भी गांव के इलाके में चालक शराब पीकर ही गाड़ी चलाना पसंद करते हैं. जिसके कारण बहुत तेजी से रोड एक्सीडेंट बढ़ रहा है. 

अगर समय रहते हुए सरकार ने इस पर कोई कारगर उपाय नहीं किया तो स्थिति और ही भयानक हो सकता है. हमारे मीडिया के लोग इस तरह के समाचार को या समस्या को कभी प्रकाशित करना पसंद नहीं करते हैं.