शादी में मेहर सिर्फ ₹5, क्या आज यह मुमकिन है ? जबकि लोग आज बहस कर रहे हैं तीन तलाक पर... 

Three talakh

जी हाँ दोस्तों इस जोड़ी की शादी में  मेहर की रकम सिर्फ 5 रुपए ही रखा गया है,अमौर प्रखंड के अन्तर्गत ग्राम रानी का रहने वाला सिराज आलम कूल्हैया बिरादरी से है आर्थिक स्थिति भी दयनीय है किन्तु इस पिता का जज्बा और तमन्ना तो देखिए,उनकी दिली तमन्ना थी कि अपनी बेटी की शादी मे मेहर केवल 5 रुपए ही हो , कल जब निकाह से पहले तमाम मेहमानों के बीच मेहर तय किया जा रहा था तभी उन्होने अपनी बात रखी,कहा वह अपनी बेटी की मेहर केवल 5 रुपए ही रखना चहता है , पिता कि बात सुनते ही लोग आश्चर्य हो गये सब ने कहा की इतना कम मेहर ठीक नही, आप कि बेटी कि जिंदगी का सवाल है,जवाब मे पिता ने क्या खूब कहा,उन्होने कहा कि खुदा पूरी जहाँ का मलिक है उनके बिना एक पत्ते तक नही हिल सकता है मेरी बेटी का सहारा खुदा है इंसान तो सिर्फ जरिया होता है, अपनी बेटी का मेहर 5 रुपए ही रखूंगा ,आखिरकार मेहर 5 रुपए ही रखा गया,ऐसे पिता के जज्बे को सलाम॥

लेखक का नाम :  मोहम्मद दानिश अख्तर, अमौर, पूर्णिया 

जबकि लोग आज टीवी चैनलों पर तीन तलाक पर बहस कर रहे हैं, उन लोगों के लिए एक अच्छा मैसेज है!  हमें और आपको खुदा पर भरोसा करना चाहिए वही सब का मालिक है! 

इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करके लोगों को  बताएं हमारे यहां ऐसा होता है और हम सब अल्लाह पर यकीन करते हैं!