मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना, आयरन युक्त पानी से मिलेगा निजात !

By: Noor Alam Last Edited: 07 Mar 2019 01:40 AM

मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना

पीने वाला पानी में आयरन की मात्रा कितनी होनी चाहिए ?

W. H. O के के अनुसार पेयजल में 1-3mg / litre की मात्रा होनी चाहिए ! खासकर सीमांचल क्षेत्र में बाढ़ का प्रभाव ज्यादा होता है इस कारण यहां के पानी में आयरन की मात्रा तय सीमा से ज्यादा होता है !

सीमा से ज्यादा आयरन होने पर बहुत से बीमारी होने का खतरा रहता है जिसमें पथरी बन्ना आम बात है ! हम आपको सोचना ही पड़ेगा कि आयरन युक्त पानी हमें पीने के लिए कैसे मिले ! 

मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना किया है ?

बिहार सरकार ने शुद्ध पेयजल की योजना लाया है जिसके तहत हर गांव के हर घर तक शुद्ध पेयजल पहुंचाने का लक्ष्य रखा है ! खासकर बिहार के बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों में फ्लोराईड, आर्सेनिक और आयरन की मात्रा मानक से अधिक पाया जाता है !

बिहार के ज्यादातर लोग चापाकल द्वारा निकाली गई पानी पीने को लिए मजबूर हैं ! इस प्रकार की पानी पीने से बहुत सारी बीमारियां होने का खतरा रहता है ! अब बिहार सरकार पानी साफ करने के लिए विभिन्न विकल्पों पर विचार कर रहा है !

अब बिहार वासियों को मिलेगा शुद्ध पेयजल,  मुख्यमंत्री जी ने दिया करोड़ों का बजट ! 

बिहार सरकार के अनुसार

पत्रांक- 2602

विकसित बिहार के सात निश्चय अंतर्गत हर घर नल का जल निश्चय के लक्ष्य को पुरा करने के लिए लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग द्वारा पूर्व से आंशिक रूप से आच्छादित ग्राम पंचायतों के सभी परिवारों को नल का जल देने हेतु समुदाय संचालित मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल (गैर गुणवत्ता प्रभावित क्षेत्र) निश्चय योजना के कार्यान्वयन हेतु रू 54361.68 लाख (पाँच सौ तैतालिस करोड़ एकसठ लाख अड़सठ हजार रूपये) की योजना की स्वीकृति ।

पत्रांक- 1160

विकसित बिहार के सात निश्चय के अंतर्गत फ्लोराईड, आर्सेनिक एवं आयरन से प्रभावित ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने तथा समुदाय आधरित जल गुणवत्ता अनुश्रवण एवं निगरानी में सामुदायिक भागीदारी को सुनिश्चित करने के लिए बिहार ग्राम स्वच्छ पेयजल निश्चय अभियान के कार्यान्वयन की स्वीकृति ।

पत्रांक- 2312   

राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में आर्सेनिक प्रभावित 961 बसावटों में शु्ध पेयजल की व्यवस्था हेतु योजना के निर्माण एवं पाँच वर्षो के रख-रखाव एवं परिचालन के साथ 39160.75 करोड़ रू (तीन सौ एकानबे करोड़ साठ लाख पचहत्तर हजार रूपये) लागत राशि की मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल (गुणवत्ता प्रभावित क्षेत्र) निश्चय योजना की स्वीकृति दी है ! 

क्या मुख्यमंत्री जी का शराबबंदी के तरह मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना भी कामयाब होगा ?